For Free Consultation, dial 73 986 73 986, 74 238 74 238 (7am-9pm)
Blog
ayurvedic, ayurveda, ayurvedic treatment, ayurvedic doctor, ayurvedic hospital, ayurveda clinic, ayurveda doctor, ayurvedic upchar, manish, acharya manish, acharya ji

Constipation

आज दुनिया भर में हर 5 में से 3 व्यक्तियों को Constipation की समस्या है। और धीरे-धीरे यह समस्या गलत खान पान की वजह से बढ़ती जा रही है जिसके लिए लोग विभिन्न-विभिन्न प्रकार का चूरन, दवाइयां इत्यादि लेते हैं। लेकिन उन्हें इस समस्या से राहत नहीं मिल पाती है। एक पुरानी कहावत है की जिस व्यक्ति का पेट साफ़ हो और जिस पर कोई कर्ज़ ना हो तो उससे बड़ा सुखी कोई नही। पाउडर, क्रीम, लिपिस्टिक आदि से चेहरे को निखारा जा सकता है पर अन्दर की ताज़गी नहीं बनाई जा सकती। शरीर के अन्दर की ताज़गी को महसूस कर पाना एक बहुत ही आनंद भरा अनुभव होता है। अन्यथा पेट साफ़ न हो तो पूरा दिन मन स्फूर्ति से कार्य नहीं कर पाता है। सरल भाषा में कॉन्स्टिपेशन होने का अर्थ है, पेट ठीक तरह से साफ नहीं हुआ है या शरीर में तरल पदार्थ की कम है।

यह Digestive सिस्टम का एक रोग है जिसमे कष्टपूर्ण, अपूर्ण (incomplete) मल विसर्जित होता है।

कब्ज यानि कॉन्स्टिपेशन पाचन तंत्र से जुड़ी एक गम्भीर समस्या है जो की किसी भी आयु वर्ग के लोगो को प्रभावित कर सकती है।

shatayupathy, shatayu, shatayu ayurveda, shatayu medicines, shatayu treatment, divya medicines, divya ayurveda

Causes of Constipation :-

  • तला हुआ भोजन, बासी भोजन, वक्त-बेवक्त भोजन करने की आदत
  • तले हुए मैदे से बनी चीज़ें
  • तेज मिर्च-मसालेदार चटपटे भोजन का सेवन करना
  • पानी कम पीना
  • खाने को ठीक से चबा कर ना खाना
  • पेनकिलर्स दर्द निवारक दवाओं का दुष्प्रभाव
  • रेशेदार आहार की कमी होना
  • चाय, कॉफी, तंबाकू, सिगरेट शराब आदि का सेवन करना
  • मानसिक तनाव होना

Types Of Constipation :-

Constipation तीन प्रकार का होता है :-

  1. Atomic Constipation :- इसमें मल पदार्थों की गति कम होती है तथा Peristaltic Movement कमज़ोर होता है।
  2. Spastic Constipation :- इसमें बड़ी आंतों की दीवार में ऐसा परिवर्तन आ जाता है कि जिससे की बड़ी आंत की ducts hyper active हो जाती है और मल आगे बढ़कर आगे नहीं निकल पाता।
  3. Obstructive Constipation :- इसमें बड़ी आंत के 8 से 10 इंच वाले भाग में अवरोध हो जाता है जिससे आंत पूर्णतः बध हो जाता है।

Diet in Constipation :-

  • Food Allowed :- फाइबर युक्त भोजन, पानी का अधिक से अधिक पिएं।
  • Vegetables :- कच्ची सब्जियों का सेवन करें। जैसे की खीरा, ककड़ी, चुकंदर, ब्रोकली, कच्चे सलाद और सब्जी।
  • अंकुरित अनाज :- गेहूं, चना, जौ, चौकर युक्त आटे की चपाती, दलिया, खिचड़ी , मूंग , अरहर की दाल,
  • ककड़ी, शलगम, गाजर, मूली, टमाटर, पालक, मेथी, पत्तागोभी , बथुआ ,प्याज, नींबू का रस।
  • Beverages :- छांछ, शरबत, सूप, लस्सी, मट्ठा, पानी इत्यादि।
  • Fruits :- सेब, अनार, अमरुद, पपीता, केला, आम, खरबूजा।
  • Dry fruits :- मुनक्का, अंजीर, किशमिश , बादाम।

Food not Allowed :-

  • मैदा, सफ़ेद ब्रेड , गेहूं के आटे की रोटी कम से कम खाएं, बासी ठंडा खाना, मैदे से बनी चीज़ें।
  • तला हुआ खाना, अंडा, मांस, चटपटी चीज़ें, और मसालेदार खाना।
  • बैंगन, अरबी, मसूर, चने की दाल।
  • केला, सेब, प्याज़, मूली, दही रात को न लें।

Beverages :-

शराब, चाय, कॉफ़ी, तम्बाकू।

For natural, ayurvedic healing of such health problem, you can consider this ayurvedic product:
https://www.shatayupathy.com/product/divya-kit/

Leave your thought

Select the fields to be shown. Others will be hidden. Drag and drop to rearrange the order.
  • Image
  • SKU
  • Rating
  • Price
  • Stock
  • Availability
  • Add to cart
  • Description
  • Content
  • Weight
  • Dimensions
  • Color
  • Attributes
Compare
Wishlist 0
Open wishlist page Continue shopping